पीएम स्वनिधि या प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना

pajonline@admin August 8, 2020

पीएम स्वनिधि या प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना

लॉकडाउन (Lockdown) के चलते कई लोग बेरोजगार हो गए हैं। सबसे ज्यादा असर रोज कमाने खाने वालों पर पड़ा है। ऐसे में सरकार रेहड़ी पटरी (Street Vendors) वालों के लिए खास योजना लेकर आई है। जिसके तहत उन्हें कामकाज शुरू करने के लिए 10 हजार रुपए दिए जाएंगे। साथ ही उन्हें सस्ते दर पर लोन मुहैया कराया जाएगा। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए अभी तक करीब 1.54 लाख आवेदकों ने आवेदन किया था। जिनमें से 48,000 रेहड़ी-पटरी वालों को लोन मंजूर कर दिया गया है। ये जानकारी केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय (MAHUA) की ओर से दी गई है।

कोविड-19 (COVID-19) की मार से प्रभावित रेहड़ी-पटरी वालों को अपनी आजीविका फिर शुरू करने के लिए सरकार ने एक जून से ये स्कीम चलाई है। इस योजना का नाम प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि (Pradhan Mantri Street Vendor’s AtmaNirbhar Nidhi- PM SVANidhi) है। इसके तहत उन्हें सस्ता लोन उपलब्ध कराया जाएगा। इस योजना का लाभ इस साल 24 मार्च या उससे पहले रेहड़ी-पटरी लगाने वाले 50 लाख लोगों को मिलेगा।

पीएम स्वनिधि या प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना क्या है?


प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना का लाभ शहरी क्षेत्र, दूरदराज इलाकों में रहने वालों और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को मिलेगा। इस स्कीम के तहत रेहड़ी-पटरी लगाने वाले लोग 10,000 रुपए तक का लोन ले सकते हैं। यह लोन उन्हें एक साल में मासिक किस्तों में लौटाना होगा। सरकार ने स्‍ट्रीट वेंडरों के लिए इस योजना में कुल 5000 करोड़ रुपए की राशि रखी है। अच्छी बात यह है कि इस योजना का लाभ लेने के लिए रेहड़ी पटरी वालों को किसी तरह की शर्त का पालन नहीं करना होगा।

पीएम स्वनिधि योजना के लाभ:

पीएम स्वनिधि योजना के द्वारा आप न सिर्फ 10000/- रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण प्राप्त कर सकते है अपितु डिजिटल सेवाओ जैसे paytm,फोन पे आदि का उपयोग कर सालाना रुपए 1200/- भी कमा सकते है।

ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया क्या है?


आवास एवं शहरी मामलों के सचिव ने बताया कि इस योजना के लिए एक मोबाइल ऐप की शुरुआत की गई है। इसलिए रेहड़ी पटरी वाले इस ऐप के जरिए लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा मंत्रालय की ओर से 29 जून को इसका एक वेब पोर्टल भी शुरू किया गया है। वहां से भी रेहड़ी वाले आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। उन्हें अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसमें उन्हें अपने व्यवसाय के बारे में बताना होगा। साथ ही अपनी बेसिक जानकारी देनी होगी। सारी चीजें मानक के हिसाब से पाए जाने पर उन्हें योजना का लाभ मिल सकेगा।

अधिकतर पुछे जाने वाले प्रश्न?

आपके दिमाग मे आने वाले सभी प्रश्नो का जवाब जानने के लिए आप MOHUA की आधिकारिक वैबसाइट या ऊपर दिये गए लिंक पर क्लिक करके अपने सवालो के जवाब पा सकते है।

पीएम स्वनिधि योजना का पता-

आप MHOUA की आधिकारिक वैबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करे-

https://www.mohua.gov.in